Dec 24, 2011

पाँच मिनटों में सीखें हिंदी इंस्क्रिप्ट कुंजी पटल लेआउट - लीना महेंडले

[यह आलेख साभार राजभाषा गूगल ग्रुप से लिया गया है। सुश्री लीना महेंडले के इस आलेख में इंस्क्रिप्ट कुंजीपटल लेआउट सीखने का बेहद सरल और आकर्षक तरीका बताया गया है। इंस्क्रिप्ट कुंजीपटल की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इसे हिंदी सहित किसी भी भारतीय भाषा के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। यह कुंजीपटल सभी भारतीय भाषाओं के लिए लिनक्स तथा मैक ऑपरेटिंग सिस्टम्स में भी उपलब्ध है। यदि इस आलेख को ध्यान से पढ़ा जाए तो इंस्क्रिप्ट कुंजीपटल लेआउट को आत्मसात करने में बहुत कम समय लगता है। फिर बस कुछ घंटों के अभ्यास की जरूरत ही भारतीय भाषाओं में टाइप करने के लिए शेष रह जाती है। एक वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी और न्यायाधीश द्वारा विशेषकर स्कूली बच्चों के लिए तैयार इस आलेख से यह भी प्रमाणित होता है कि यदि मन से शुरुआत भर हो जाए तो भारतीय भाषाओं और संघ की राजभाषा हिंदी में कामकाज करने में किसी को कोई कठिनाई नहीं हो सकती। ]   
बच्चों, अब तो स्कूलों में भी संगणक (कम्प्यूटर) सिखाया जाने लगा है और तुममें से कईयों के घर में भी यह जरूर होगा... तो क्या तुम जानते हो कि संगणक पर हिंदी सीखने के लिये एक  युक्ति है जिसमें केवल आधा घंटा पर्याप्त है और वह भी अंग्रेजी टंकण-ज्ञान पर निर्भरता के बिना। और अगर पूरी बात कहूँ तो हरेक भारतीय भाषा सीखने की यही युक्ति है।


इस युक्तिका नाम है 'इनस्क्रिप्ट की-बोर्ड लेआउट' अर्थात् संगणक के की-बोर्ड या कुंजीपटल पर चलने वाला एक विशिष्ट वर्णक्रम। लेकिन इसे सीखने से पहले तुम्हें बस एक बार अपने संगणक की परीक्षा लेनी है और अगर वह परीक्षा में खरा उतरा तो तुम यह युक्ति सीख सकते हो।

तो आओ पहले तुम्हारे संगणक की परीक्षा लेते हैं जो कुछ इस प्रकार है --
Go to start -> setting -> control panel -> Regional and Language -> click
एक खिडकी खुलेगी जिसके ड्रॉप-डाउन मेन्यू पर लिखा होगा - ENG. मेन्यू में संसार की बीसियों भाषाएँ मिलेंगी और यदि हिंदी भी मिल जाए तो समझो तुम्हारा संगणक परीक्षा पास हो गया। अब हिंदी को क्लिक करो और अप्लाय तथा ओ के बटन भी दबाओ।। ऐसा करते ही संगणक के सबसे नीचे वाली पट्टी पर (टास्क-बार पर) EN दीखने लगेगा और क्लिक करने पर हिंदी का ऑप्शन भी मिलेगा।
यह काम केवल सिर्फ एक बार यानी पहली बार करना है -- बारबार नहीं। अब पहले वर्ड फाईल खोलकर उसमें क्लिक करो और फिर टास्क बार में हिन्दी का ऑप्शन ले आओ और कोई भी कुंजी दबाओ, अरे ये क्या,  सारे के सारे अक्षर हिंदी में आने लगे !

तो अब तुम्हारा संगणक पास हो गया और तुम इनस्क्रिप्ट विधि से हिंदी टंकण सीखना आरंभ कर सकते हो। अब कोई चित्र देखो जिसमें इनस्क्रिप्ट ले-आऊट बताया गया है। इस लेआऊट में वर्णों का क्रम वैसे ही चलता है जैसा हमने कक्षा-1 में पढा होता है -- अर्थात् क ख ग घ..., च छ ज झ..., या अ आ इ ई उ ऊ... । अतः कुंजियाँ खोजने की दिक्कत नही है, जो अंग्रेजी टंकण सीखने में होती है । साथ ही इसमें तमाम व्यंजन दायें और स्वर की मात्राएँ बाँये हाथ से लगानेका चलन है, जिससे अपने आप एक लय सी बँध जाती है और बस थोडी ही प्रॅक्टिस से टंकण का काम तुम तीव्र गति से कर सकते हो। अब चिन्ता छोडो कि तुम्हारे कुंजीपटल पर हिंदी स्टिकर तो लगे ही नही हैं -- बस निश्चिंत होकर चित्र देखो, अपना कुंजीपटल देखो और सीखो यह युक्ति।

पहले दो मिनटों में सीखो बीस अक्षर
कख-गघ --- सामान्य कुंजीपटलके अंग्रेजी अक्षर K-I की जोडी देखो।
यही कख और गघ हैं।
तथ- दध --- अगली दो कुंजियाँ L-O हैं जो तथ, दध के लिये हैं,
चछ- जझ --- अगली चछ,जझ की
टठ -डढ --- और उससे अगली टठ डढ की।
र ह --- क के बाँई ओर JU की कुंजीसे र-ह लिखते हैं और
पफ -बभ ---उससे बायें H-Y पर पफ, बभ हैं।

कुंजियों की ये जगहें समझकर आत्मसात् करने के लिए दो मिनट पर्याप्त हैं। कठिन (भारी) अक्षर के लिये (अर्थात् खघ,थध,छझ,ठढ,फभ) शिफ्ट के साथ कुंजी दबानी होगी।
अगले दो मिनटोंमें सीखो और बीस अक्षर बाँईं ओर की पाँच कुंजी-जोड़ियों बाराहखडी के दस स्वरों के लिये हैं। इन्हें भी हमने पहली कक्षा में रटा था -- अआइईउऊएऐओऔअंअः

अ आ – अंग्रेजी अक्षर DE की जोड़ी

इ ई – FR की जोड़ी

उ ऊ – GT की जोड़ी

ए ऐ – SW की जोड़ी

ओ औ – AQ की जोड़ी
इनका क्रम ओऔ,एऐ,अआ,इई,उऊ रखा गया है क्योंकि इसमें सुविधा है। यहाँ अंग्रेजी अक्षर मैंने केवल पहली बार जगह बताने के लिये लिखे हैं, याद करने के लिये नहीं। शिफ्टकुंजी के साथ लिखने पर स्वतः स्वर लिखा जाता है परन्तु किसी व्यंजन की मात्रा लगाने के लिये शिफ्ट कुंजी नही लगेगी।
इस प्रकार दस मात्राएँ तथा उन्हें लगाने का तरीका समझने के लिये अगले दो मिनट पर्याप्त हैं।
इन कुंजियोंको समझकर यदि हम प्रॅक्टिस करें --
काकी, चाची, दादी, ताई, ताऊ, बाबा, पापा, काका, चाचा, टाटा, दीदी -- तो इस कुंजी रचना की सरलता तत्काल मोह लेती है। बचे अक्षरों को एक बार ढूँढ कर समझ जा सकता है।
शिफ्ट के साथ ५,६,७,८, अंकों की कुंजियों से ज्ञ त्र क्ष श्र तथा + की
कुंजी से ऋ लिखते हैं।
सबसे निचली पंक्ति में तीसरी कुंजी से आरंभ कर म (शिफ्ट के साथ ण),  न, व, ल (शिफ्ट के साथ मराठी, कन्नड आदि भाषाओंका ळ), स (शिफ्ट के साथ श), ष तथा अन्तिम कुंजीपर य (शिफ्ट के साथ बंगालीका दूसरा य)  हैं। ड से अगली कुंजी पर ञ है। शिफ्ट के साथ ह की कुंजी से ङ लिखते हैं।
अनुस्वार के लिये अक्षर लिखने के बाद अंग्रेजी X की कुंजी लगाना। इसे शिफ्ट के साथ लगाने पर चंद्रबिंदु लगता है। जरा से अभ्यास से ये याद हो जाते हैं।
अब जरा संयुक्त अक्षर टाइयाप करने कोशिश करें-
संस्कृत के नियमानुसार व्यंजन में अ लगाकर उसे पूरा किया जाता है। जबकि यहाँ किसी भी कुंजी से पूर्ण व्यंजन लिखा जाता है ताकि अ की मात्रा बार-बार न लगानी पडे। अतः इस कुंजीपटल में अ की कुंजी (D अक्षर पर) लगाने पर वहाँ हलन्त लगता है और अगला व्यंजन उसमें जुड़ जाता है।
यदि लिखना हो क्रम तो क  हलन्त ,र ,म परंतु कर्म लिखने के लिये क, र , हलन्त , म टाइप किया जाएगा। कृपा लिखने के लिये क में ऋ की मात्रा (बिना शिप्ट के) और विसर्ग चिह्न के लिये शिफ्ट के साथ - की कुंजी लगती है।
संगणक के सामने बैठकर लिखने लगो तो यह सब पढने में जितना समय लगता है उससे आधे समय में ही यह सब सीखा जाता है।
यदि संगणक ही परीक्षा में फेल गया तो तुम्हें उसकी मदद करनी पडेगी। Regional and Language के मेन्यू में हिंदी न मिले तो उसे विण्डोज की सीडी से लोड करना पडेगा। विण्डोज ऑपरेटिंग सिस्टम की सीडी में एक i386 फाईल होती है जिससे ये हिंदी फॉण्ट संगणक की समझ में आते हैं। यह फाइल विण्डोज की सीडी पर रखी होती है, लेकिन हर संगणक पर बाय डिफाल्ट लोड नही होती । इसीलिए तुम्हें अलग से डालनी पडेगी। यदि तुम्हारे पास सीडी न हो तो किसी दोस्त की सीडी से i386 फाईल को पेनड्राइव पर ले आओ और उससे लोड करो।
तो बस सीखो हिंदी टंकण फटाफट और भेजो मुझे हिंदी ई-मेल। 
मेरा पता है --
leena.mehendale@gmail.com
यदि संभव हो तो इनस्क्रिप्ट सीखने का एक विडियो भी देखो जो मैंने अपनी यूट्यूब sanskrittv पर रखा है।
-लीना महेंडले


1 comment: