Dec 29, 2012

कैसे कहूँ इस मौत को कि ठीक है!

कैसे कहूँ
इस मौत को
कि ठीक है!

कैसे कहूँ
इस मौन को
कि ठीक है!

जब व्यवस्था ही
व्यवस्थित न रही
राजधानी में भी
बस्ती न रही
-एक बेटी तक
सुरक्षित न रही
आदमी के कुछ भी
बसकी न रही

तब मौत ने
इक सिरहाना दे दिया
तोड़ कर रौंदे गए
अगुआ हुए विश्वास को
एक भरोसा, एक बहाना दे दिया

दानवों की
दहशतों के दौर में
मगरमच्छी
आंसुओं के बौर में

कैसे कहूँ
इस मौत को
कि ठीक है!

कैसे कहूँ
इस मौन को
कि ठीक है...

-अजय मलिक (c)
 

Dec 25, 2012

विंडोज़ 8: श्रुतलेखन पास - मंत्र फेल

विंडोज़ 8 पर श्रुतलेखन राजभाषा आसानी से स्थापित हो जाता है किन्तु सीडैक द्वारा विंडोज़ 7 के लिए जारी पैच एसएलआर स्थापित नहीं होता। इसके बावजूद भी श्रुतलेखन विंडोज 8 में काम करता है। पिछले दिनों नई दिल्ली में प्राध्यापक मित्र  श्री विक्रम सिंह से श्रुतलेखन पर आधी-अधूरी सी चर्चा हुई थी। वापस लौटकर एक-दो दिन उलझने के बाद जो एक बात मेरी समझ में आई , वह यह है कि यदि विंडोज़ 7 या 8 में कीबोर्ड लेआउट आईएमई या माइक्रोसॉफ़्ट इंडिक लैड्ग्वेज इंडिक टूल्स का चयन करने के बाद डिक्टेशन शुरू किया जाए तो श्रुतलेखन से काफी हद तक सही परिणाम प्राप्त किए जा सकते हैं। इसका मतलब है कि आपके कंप्यूटर में हिन्दी यूनिकोड सक्रिय हो और समुचित आईएमई वगैरा इंस्टाल होने के साथ-साथ श्रुतलेखन पर कार्य करते समय हिन्दी कीबोर्ड का चयन किया हुआ होना चाहिए। श्रुतलेखन इंस्टाल होने के बाद आपके डेस्क टॉप पर 4 आइकॉन दिखाई दे सकते हैं, इनमें से दो आइकॉन श्रुतलेखन के लोगो जैसे दिखाई देते हैं जबकि दो वाणीलेखन से संबन्धित हैं। आपको श्रुलेखन राजभाषा वाले आकोन को डबल क्लिक करके अथवा आवश्यकतानुसार दाया क्लिक-> रन एज़ एडमिनिस्ट्रेटर को क्लिक करके आगे बढ़ाना है।  श्रुतलेखन टूलबार आमतौर पर विंडोज़ एक्सपी में ही काम करता है। विंडोज़ के अन्य संस्करणों पर इसके काम करने  की संभावनाएं बहुत कम हैं। यदि विंडोज़ एक्सपी में हिन्दी कीबोर्ड का चयन नहीं किया जाएगा तो टूल बार के परिणाम खाली डिब्बे भर होंगे।
 
श्रुतलेखन पर काम करते समय माइक्रोफोन सैटिंग्स  को लगातार चैक करते रहें। वैसे तो माइक एवं माइक्रोफोन बूस्ट को अधिकतम पर रखने की सिफ़ारिश की जाती है लेकिन कुछ लैपटॉप्स में रिकोर्डिंग डिवाइस -> माइक प्रॉपर्टीज़ -> लेवल्स -> माइक एवं माइक्रोफोन बूस्ट को अधिकतम पर रखने पर समस्या भी आ सकती है। मेरा विचार यह है कि माइक्रोफोन बूस्ट को 20 dB से अधिक न रखा जाए, कुछ लेपटॉप्स में यह अधिकतम 30 डीबी या उससे अधिक हो सकता है।
 
विंडोज़ 8 में मंत्र राजभाषा एसक्यूएल सर्वर पर आकर इंस्टाल होना बंद हो जाता है। मुझे लगता है कि विंडोज़ 8 के लिए उपयुक्त एसक्यूएल सर्वर के साथ ही इसे स्थापित कर पाना संभव हो सकता है।
-अजय मलिक

बड़े दिन पर बहुत बड़ी-बड़ी शुभकामनाएँ


Dec 23, 2012

सही है तो बहुत है ... कुछ मुक्तक ...

(1)

सही है

तो बहुत है

बस एक सही

चाहे फिर

और एक

न सही 


(2) 

एक 

कलम से 

कौम 

कलम हो गई 

एक 

कलम से 

कौम 

कलमी हो गई 

एक 

कलम से 

सारे कमल 

खिल उठे 

एक

कलम से 

दुनिया 

कमली हो गई 


(3)

थक गईं
सरकार
और सोती रहीं
रात-दिन
सड़कें
कफ़न ढोती रहीं 
(4) 

नहीं,
वह अबला नहीं थी
जो
बस कायरों के
काफ़िले में
घिर गई।  

-अजय मलिक (c)


Dec 22, 2012

10 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में हिन्दी विभाग ही नहीं: डा. रामप्रकाश

देश की राजभाषा हिंदी को पूरा मान-सम्मान तभी मिलेगा, जब यह भाषा देश के उच्च शिक्षण संस्थानों में पढ़ाई जाएगी। इसके लिए आवश्यक है कि प्रत्येक विश्वविद्यालय में हिंदी विभाग का गठन हो, लेकिन विडम्बना यह है कि देश को आजाद हुए 60 साल से भी अधिक हो चुके हैं, लेकिन आज तक देशभर में स्थित आधे से अधिक विश्वविद्यालयों में हिंदी विभाग का गठन भी नहीं हुआ। आज समय की मांग है कि प्रत्येक विश्वविद्यालय में हिंदी विभाग का गठन हो। यह मांग देश की सबसे बड़ी पंचायत में राज्यसभा सांसद डॉ. रामप्रकाश ने उठाई। - दैनिक ट्रिब्यून

पूरी खबर पढ़ने के लिए कृपया नीचे दिए लिंक पर करें-

Dec 18, 2012

विन्डोज़ 8 के ज़लवे : सब हिंदी-हिंदी हो जाए







Dec 8, 2012

"जल रहा है देश सारा और हम खामोश हैं" - डॉ कुँवर बेचैन

(फेसबुक से ली गई डॉ कुँवर बेचैन की एक गजल के अंश )
जल रहा है देश सारा और हम खामोश हैं
ज़र्रा-ज़रा है अंगारा और हम खामोश हैं

चाकुओं की नोक पर हैं अब हमारी गरदने
गरदनों पर है दुधारा और हम खामोश हैं

-कुंवर बेचैन

Dec 7, 2012

इफ़्फ़ी में भारतीय पेनोरमा के उद्घाटन के अवसर पर ओमपुरी (ब्लैकबेरी आडिओ)


सेल्यूलाइड मैन  के प्रदर्शन से पूर्व ओमपुरी ने क्या कहा ?
यह जानने के लिए नीचे लिंक को क्लिक करें 

इफ़्फ़ी में क्रिस्टोफ ज़ानुसी ने क्या कहा ... (ब्लैकबेरी आडिओ )

गोवा में अपनी प्रेस वार्ता के दौरान क्रिस्टोफ जानुसी को सुनने के लिए कृपया नीचे दिए लिंक को क्लिक करें 

Dec 6, 2012

ऐसे दौड़ते हैं घोड़े फिल्मों में

video

Dec 5, 2012

हिन्दी प्रूफिंग टूल यानी वर्तनी शोधक


अब पाइए हिन्दी के लिए भी प्रूफिंग  टूल्स यानी वर्तनी शोधक । जी हाँ, विंडोज़ 8 एंटरप्राइज़ में माइक्रोसॉफ्ट  ऑफिस 2013 के साथ माइक्रोसॉफ्ट इंडिक लैड्ग्वेज इनपुट टूल स्थापित यानी इंस्टाल करने के बाद जब आप वर्ड खोलेंगे तो आपको यह टूल डाउनलोड करने का सुझाव मिलेगा । हिन्दी प्रूफिंग टूल्स का साइज़ मात्र 1.28 एमबी है। मैंने  अभी बहुत ज्यादा खोज-ख़बर तो इसकी नहीं ली है मगर शब्दों को गलत टाइप करने पर यह बिलकुल अँग्रेजी की अशुद्धियों यानी वर्तनी की त्रुटियों की तरह ही अशुद्ध हिंदी शब्द के नीचे लाल निशान दिखाता है और दायां (राइट) क्लिक करने पर सही विकल्प भी सुझाता है।
-अजय मलिक